Spread the love

फेस वार्ता। भारत शर्मा 

मीना बाजार की ज्यादतर दुकानों पर हर माल 10 रूपया, 20 रूपया, 50 रूपया, 80 रूपया और 100 रूपये तक बोर्ड लगे हुए हैं।

सूरजपुर में प्राचीनकालीन ऐतिहासिक बाराही मेला.2024, मंगलवार,नौवां दिन

 

महिलाऐं करती हुई दिखाई देती है, जरूत के सामनों की खरीद्दारी

सूरजपुर:-  ऐतिहासिक प्राचीनकालीन बाराही-2024, मेले में लगा हुआ मीना बाजार खासा आकषर्ण का केंद्र बना हुआ है। मीना बाजार में महिलाऐं जरूत के सामानों की खरीद्दारी करती हुई, दिखाई दे रही है। शाम को जैसे ही मेला शुरू होता है, मीना बाजार भी गुलो गुलजार होने लगता है, यहां दुकानदरांं से लेकर खरीद्दारी करने वाले लोगांं की चहल पहल बढने लगती है।

 

शिव मंदिर सेवा समिति के अध्यक्ष धर्मपाल भाटी ने बताया कि मीना बाजार में प्लास्टिक के सामान से लेकर सभी जरूरत का सामान मिल जाता है। इनमें घडी, चश्मे, खेल खिलौने, बैलून, हुक्का, मिट्टी के प्राचीनकालीन बर्तन, चाबी के छल्ले, ज्वैलरी, आर्ट फिशियल ज्वैलरी, बिंदी नाखूनी,क्रीम यानी कॉस्मैटिक्स का सामान सभी चीजे मिल जाती है। मीना बाजार की ज्यादतर दुकानों पर हर माल 10 रूपया, 20 रूपया, 50 रूपया, 80 रूपया और 100 रूपये तक बोर्ड लगे हुए हैं। इसके अलावा कुछ चीजें मोलभाव के जरिए जायज रेट पर भी मिल जाती हैं। शिव मंदिर मेला समिति के महासचिव ओमवीर बैंसला और कोषाध्यक्ष लक्ष्मण सिंघल ने बताया कि प्राचीनकालीन बाराही मेले की शुरूआत से यहां पर जरूरत की चीजों के लिए दुकान लगाई जाती थी, किंतु जैसे जैसे बाराही मेला भव्य रूप लेता गया, यह मीना बाजार भी बढता चल गया है, फिलहाल इस बार मीना बाजार में दर्जनों दुकानेंं जरूरत के सामनों की लगी हुई हैं। मीना बाजार में घडी, चश्मे, खेल खिलौने, बैलून, हुक्का, मिट्टी के प्राचीनकालीन बर्तन, चाबी के छल्ले, ज्वैलरी, आर्ट फिशियल ज्वैलरी, बिंदी नाखूनी,क्रीम पॉवडर यानी कॉस्मैटिक्स आदि सभी वस्तुएं जायज रेट पर मिल जाती है। शिव मंदिर सेवा समिति के मीडिया प्रभारी मूलचंद शर्मा ने बताया कि औरतें इस मीना बाजार में सबसे ज्यादा खरीद्दारी करती हुई दिखाई देती है क्यांंकि उन्हें जरूरत का सारा सामान यहां मिल जाता है। उन्होंने बताया कि सूरजपुर में बर्फखाना की ओर से बाराही मेले में जाने वाले रास्ते के प्रवेश द्वार से ही मीना बाजार शुरू हो जाता है और वहीं दूसरी ओर प्राचीनकलीन बाराही मंदिर तथा संस्कृति मंच व अतिथि मंच व मल्ल स्थल की ओर से भी मीना बाजार मेंं प्रवेश किया जा सकता है। इस बात की जानकारी मीडिया प्रभारीः-मूलचंद शर्मा, शिव मंदिर मेला समिति ( पजी0 ) ने दी।

 

Loading