Spread the love

फेस वार्ता:

ग्रेटर नॉएडा :- जीएल बजाज इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड मैनेजमेंट (जीएलबीआईटीएम) ने अपने कैम्पस में एआईसीटीई आइडिया (आइडिया डेवलपमेंट, इवैल्यूएशन एंड एप्लीकेशन) लैब की स्थापना की हैं। जिसका उद्घाटन अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद के चेयरमैन प्रो. टीजी सीताराम ने रिबन काटकर किया।

प्रो. सीताराम ने सभागार को संबोधित करते हुए कहा कि अभी देशभर में 150 और आइडिया लैब स्थापित की जाएंगी। उन्होंने संस्थान में स्थापित लैब का निरिक्षण किया और प्रसंशा करते हुए निर्देश दिया कि लैब को छात्रों के उपयोग के लिए निरंतर खुला रखा जाना चाहिए ताकि सीखने के अवसर ज्यादा मिल सकें। उन्होंने जीएल बजाज के छात्रों को नवाचार और कौशल विकास के लिए आइडिया लैब का उपयोग करने के लिए प्रेरित किया और इस बात पर जोर दिया कि भविष्य की सफलता केवल डिग्री से ही नहीं कौशल से भी प्रेरित होगी। एआईसीटीई के चेयरमैन ने छात्रों में नवाचार और लीक से हटकर सोचने की दृढ़ इच्छा को बढ़ावा देने के लिए जीएल बजाज के निरंतर प्रयासों की प्रशंसा की और छात्रों से इस संसाधन का सर्वोत्तम उपयोग करने और जो संभव है उसकी सीमाओं को आगे बढ़ाने का आग्रह किया। जीएल बजाज शिक्षण संस्थान के मुख्य कार्यकारी अधिकारी कार्तिकेय अग्रवाल ने एआईसीटीई चेयरमैन को पुष्प गुच्छ और स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया और कार्यक्रम में शामिल होकर मार्गदर्शन करने के लिए धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा यह आइडिया लैब विद्यार्थियों को विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित के मूल सिद्धांतों को समझाने तथा उसका व्यावहारिक अनुभव प्राप्त कराने में सहायक सिद्ध होगी और लैब की स्थापना से विद्यार्थियों को शोध और नवाचार के लिए उत्कृष्ट सुविधाएं उपलब्ध होंगी। कॉलेज के निदेशक डॉo मानस कुमार मिश्रा ने कहा कि छात्रों को इस लैब में विज्ञान, प्रौद्योगिकी, इंजीनियरिंग और गणित के बुनियादी सिद्धांतों का व्यवहारिक अनुभव होगा। आईडिया लैब इंजीनियरिंग स्नातकों को अधिक कल्पनाशील और रचनात्मक रूप में ढालेगा। इसका उद्देश्य एक विचार को एक प्रोटोटाइप में बदलने और एक छत के नीचे सभी सुविधाएं प्रदान करना है। लैब में अत्याधुनिक उपकरण- 3डी प्रिंटर, सीएनसी राउटर, माइक्रोकंट्रोलर आदि उपलब्ध हैं। इस दौरान कॉलेज के अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।

Loading

You missed