एमिटी में मनाया गया संविधान दिवस एमिटी लाॅ स्कूल नोएडा ने संविधान दिवस मनाया ।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा

एमिटी में मनाया गया संविधान दिवस
एमिटी लाॅ स्कूल नोएडा ने संविधान दिवस मनाया गया
जिसके तहत इलाहाबाद उच्च न्यायालय के(सेवानिवृत्त) जस्टिस वेद प्रकाश वैश्य, मथुरा के संस्कृति विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर डा राणा सिंह, सुप्रीम कोर्ट की एडवोकेट आॅन रिकाॅर्ड पर सुश्री भारती त्यागी, भोपाल की न्यायिक अकादमी के रजिस्ट्रार विजय चंद्र ने छात्रों से अपने विचार साझा किए। इस अवसर पर एमिटी शिक्षण समूह के संस्थापक अध्यक्ष डा अशोक कुमार चौहान एंव एमिटी लाॅ स्कूल के चेयरमेन डा डी के बंद्योपाध्याय ने अतिथियों का स्वागत किया।


इलाहाबाद उच्च न्यायालय के(सेवानिवृत्त) जस्टिस वेद प्रकाश वैश्य ने कहा कि संविधान के निर्माण में अहम भूमिका डा भीमराव रामजी अम्बेडकर की थी। भारत का सबसे लबंा लिखित संविधान है जिसमें सरकार के साथ साथ नागरिकों के कर्तव्य के बारे में दिया हुआ है। संविधान दिवस को मनाने से उसे बढ़ावा भी मिलेगा। संविधान देश के निर्माण खंडों का वर्णन करता है जिसका अपना अलग महत्व है, इसके माध्यम से देश के लोगों को समानता मिलती है। छात्रों को सलाह देते हुए जस्टिस प्रकाश ने कहा कि सदैव मेहनत करे और लिटिगेशन का हिस्सा बनें का प्रयास करे।
एमिटी शिक्षण समूह के संस्थापक अध्यक्ष डा अशोक कुमार चौहान कहा कि देश के विकास के लिए विज्ञान, ज्ञान आदि के साथ मूल्य भी अहम होते है। कानून हर देश के लिए मैलिक पत्थर के रूप होता है। लाॅ के छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि आप देश के परिदृश्य को बदलने में अपना योगदान लाॅ के माध्यम से दे सकते है लेकिन सदैव ज्ञान के साथ मूल्यों को भी लेकर चले।
सुप्रीम कोर्ट की एडवोकेट आॅन रिकाॅर्ड पर सुश्री भारती त्यागी ने कहा कि देश जो विकास की ओर तेजी बढ रहा उसका कारण संविधान है। छात्रों को लिटिगेशन एंव न्यायपालिका पर अधिक मेहनत करे और अपने कैरियर को तैयार करे। लिटिगेशन में छात्रों को बहुत मेहन करनी पड़ती है। छात्रों को सलाह देते हुए कहा कि अपने समय को मूल्य दे।
भोपाल की न्यायिक अकादमी के रजिस्ट्रार श्री विजय चंद्र ने संविधान को जीवीत एंव जैविक दस्तावेज के रूप में बताया है। जिसके जरिए समाज के कमजोर वर्ग का ऊपर उठाने में मदद करेगा। संविधान एक देश के लिए उपहार की तरह है जो समाज को परिवर्तन में मद्द करेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *