स्वास्थ्य और परिवार कल्याण पर संसदीय स्थायी समिति ने कश्मीर के चार दिवसीय अध्ययन दौरे की शुरुआत|

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण पर संसदीय स्थायी समिति ने कश्मीर के चार दिवसीय अध्ययन दौरे की शुरुआत की। जिसमें सांसद गौतमबुद्धनगर एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा महेश शर्मा भी सम्मिलित हुये।
श्रीनगर में पहले दिन जी.एम सी अस्पताल एवं पी.एच.सी सेन्टर में विभिन्न चिकित्सा सुविधाओं का निरीक्षण किया और अपने विषय के संबंध में प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए डॉक्टरों, पैरामेडिक्स और रोगियों से बातचीत की।

इसके अध्यक्ष राम गोपाल यादव की अध्यक्षता वाली संसदीय स्थायी समिति जम्मू और कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर है, जहां संसद के दोनों सदनों के सदस्य कार्यान्वयन के विषय मामलों पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए कई हितधारकों से मिले और एम्स अवन्तीपुरा पहलगांव का भी दौरा किया। आयुष्मान भारत की समकालीन समय में मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सा उपकरणः विनियमन और नियंत्रण, कैंसर के उपचार की वहन क्षमता और वैक्सीन विकास, वितरण प्रबंधन और महामारी कोविड-19 के बारे में जानकारी प्राप्त की एवं अपने सुझाव दिये।
तीसरे दिन स्थायी समिति ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य जम्मू एवं कश्मीर के साथ बैठक की एवं वहा पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें करने के लिये विचार विमर्श किया। इसी क्रम में चैथे दिन सांसद डा. महेश शर्मा स्थायी समिति के साथ चण्डीगढ़ पीजीआई का दौरा किया एवं वहां पर पीएचसी सेन्टर का भी दौरा किया। समिति के सदस्यों को शैक्षणिक गतिविधियों, स्वीकृत संख्या और उससे जुड़े अस्पतालों, अस्पतालों में उपलब्ध विशिष्टताओं के अलावा पिछले वर्षों में विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के दौरान किए गए कार्यों के बारे में जानकारी दी गई। वहां पर बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के लिये स्थायी समिति के साथ विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जो आने वाले समय में प्रधानमंत्री के सामने प्रेषित की जायेगी।


इसके अध्यक्ष राम गोपाल यादव की अध्यक्षता वाली संसदीय स्थायी समिति जम्मू और कश्मीर के केंद्र शासित प्रदेश के तीन दिवसीय दौरे पर है, जहां संसद के दोनों सदनों के सदस्य कार्यान्वयन के विषय मामलों पर प्रतिक्रिया प्राप्त करने के लिए कई हितधारकों से मिले और एम्स अवन्तीपुरा पहलगांव का भी दौरा किया। आयुष्मान भारत की समकालीन समय में मानसिक स्वास्थ्य चिकित्सा उपकरणः विनियमन और नियंत्रण, कैंसर के उपचार की वहन क्षमता और वैक्सीन विकास, वितरण प्रबंधन और महामारी कोविड-19 के बारे में जानकारी प्राप्त की एवं अपने सुझाव दिये।
तीसरे दिन स्थायी समिति ने प्रमुख सचिव स्वास्थ्य जम्मू एवं कश्मीर के साथ बैठक की एवं वहा पर बेहतर स्वास्थ्य सुविधायें करने के लिये विचार विमर्श किया। इसी क्रम में चैथे दिन माननीय सांसद डा. महेश शर्मा जी स्थायी समिति के साथ चण्डीगढ़ पीजीआई का दौरा किया एवं वहां पर पीएचसी सेन्टर का भी दौरा किया। समिति के सदस्यों को शैक्षणिक गतिविधियों, स्वीकृत संख्या और उससे जुड़े अस्पतालों, अस्पतालों में उपलब्ध विशिष्टताओं के अलावा पिछले वर्षों में विशेष रूप से कोविड-19 महामारी के दौरान किए गए कार्यों के बारे में जानकारी दी गई। वहां पर बेहतर चिकित्सा सुविधाओं के लिये स्थायी समिति के साथ विस्तृत रिपोर्ट तैयार की जो आने वाले समय में माननीय प्रधानमंत्री जी के सामने प्रेषित की जायेगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *