एन केएस सेवा संस्थान की कवि गोष्ठी सम्पन्न ।

फेस वार्ता

हिंदी की वर्तनी को शुद्ध करना आवश्यक: डॉ खरे

ग्रेटर नोयडा। हिंदी हमारी राजभाषा है और इसका मान रखना हम हिंदी प्रेमियों का कर्तव्य है।

हम केवल हिंदी की अशुद्ध वर्तनी से अपने को,अपने परिवार को तथा परिचितों के माध्यम से यदि परिचित करवा कर शुद्ध वर्तनी की ओर उन्हें प्रवत्त कर सकें तो यह हिंदी की महान सेवा होगी। दिनांक 18-07-21 को एनकेएस सेवा संस्थान के द्वारा सेक्टर 37, ग्रेटर नोएडा में आयोजित कवि गोष्ठी में उक्त उद्गार मध्यप्रदेश के शिवपुरी से आये व कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ लखन लाल खरे ने व्यक्त किए।कार्यक्रम के मुख्य अतिथि कोलारस के डॉ रमन बिहारी लाल सक्सेना ने भी अपने उद्गार व्यक्त किए।संस्था की ओर से दोनों अतिथियों सहित पवन कुमार शर्मा, नईम शेरबानी निर्दोष व डॉ ब्रजलता शर्मा का भी शाल, श्रीफल और प्रशस्ति पत्र देकर सम्मान किया गया।


इस अवसर पर संस्था की अध्यक्ष डॉ ब्रजलता शर्मा ने संस्था के उद्देश्यों पर प्रकाश डाला। कोरोना के नियमों का पालन करते हुए सम्पन्न हुई इस काव्य गोष्ठी अतिथियों के अतिरिक्त ब्रजकिशोर शुक्ला, निखिल गौड़, प्रवीन कुमार शर्मा, श्रीमति सुमन चौहान, श्रीमति मेघा दुबे, श्रीमति यशोदा कुमारी, श्रीमति रश्मि जिन्दल ने सरस् काव्य पाठ किया।सफल संचालन श्रीमती डॉ स्वाति चौधरी व रमन रिद्धि ने किया। आभार प्रदर्शन रमेश शर्मा ने किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *