मांगों को लेकर किसानों का अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन

ग्रेटर नोएडा (फेस वार्ता) :- भारतीय किसान यूनियन बलराज के नेतृत्व में 3/3/21को कैमराला चक्रसैनपुर के देवी मन्दिर पर कृषि बिल कानूनों को वापस लेने, एम एस पी गारंटी कानून बनाने, खेती को मनरेगा से जोड़ने, गन्ना मूल्य 450 रुपए प्रति क्विंटल करने, पैट्रोल डीजल रसोई गैस बिजली बिल की बढ़ती दरों को कम करने आदि मांगों को लेकर किसानों का अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन आन्दोलन तीसरे दिन भी जारी रहा

आज क्रमिक अनशन पर किसान सूबेदार रघुराज सिंह भाटी, टेकराम भाटी,धीरसिहं,लीलू प्रधान, संजीव भाटी,रहे। भारतीय किसान यूनियन बलराज के राष्ट्रीय अध्यक्ष बलराज भाटी जी ने किसानों को सम्बोधित करते हुए कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा कोरोना काल में तीन क़ृषि बिल कानून 20 जून 2020 को उस समयकाल मैं पास किया गया था जब देश कोराना जैसी महामारी जैसे दौर से गुजर रहा था पूरा देश का हर व्यक्ति अपने घरों में कैद था हर सरकारी कार्य बन्द थे फिर क्यों ऐसी स्थिति में ये कानून पास किया गया यदि सरकार को किसानों की इतनी ही चिन्ता थी तो फसलों का न्यूनतम समर्थन मूल्य गारंटी कानून पास करती लेकिन ये सब पूंजिपतियों को फायदा पहुंचाने के लिए सरकार की सोची समझी रणनीति थी जिससे कोई भी किसान ऐसे दौर में विरोध प्रदर्शन न कर पायें किसान इस बिल का उसी दिन से विरोध जता रहा था और अब तीन महीनों से किसानों का बोर्डर पर धरना प्रदर्शन चल रहा है अब भारतीय किसान यूनियन बलराज व अन्य बाईस संगठनों ने किसानों की लड़ाई वहीं है लेकिन स्वरूप लड़ाई का बदला है पूरे उत्तर प्रदेश में गांव गांव हर जिले में एक मार्च से अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन आन्दोलन शुरू किया हुआ है आज़ किसानों ने मुठ्ठी बन्द कर एकता का संदेश दिया और कहा कि सभी किसान मुठ्ठी बन्द की तरह एक हैं और अपनी मांगों को मनवाने तक अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन आन्दोलन जारी रहेगा।
इस मौके पर प्रेमचन्द अधाना, जसबीर, कैप्टन चंद्रपाल भाटी, अनूप भाटी, सुन्दर भाटी, सुन्दर तंवर, जयबीर,चतर सिंह, अशोक भाटी, बिजेंद्र भाटी, संजय भाटी, विकास भाटी,गणेशी जाटव, मुकेश पडिंत,बीरपाल पंडित, महीपाल जाटव आदि किसान मौजूद रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *