केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए किसान कानून के खिलाफ, उत्तर प्रदेश किसान मजदूर मोर्चा की बैठक

फेस वार्ता ।भारत भूषण शर्मा:-

दिल्ली :- केंद्र सरकार द्वारा बनाए गए किसानों के कानून के विरोध में दिल्ली प्रेस क्लब में उत्तर प्रदेश किसान मजदूर मोर्चा ने प्रेस वार्ता के दौरान भारतीय किसान यूनियन (बलराज) के राष्ट्रीय अध्यक्ष बलराज भाटी ने कहा कि यह आंदोलन पीछे हटने वाला आंदोलन नहीं है जब तक की केंद्र सरकार इस बिल को समाप्त नहीं कर देती, आपको बता दें कि किसान आंदोलन लगभग 85 दिनों से दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर किसान आंदोलन कर रहे हैं


पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अमरोहा एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश के किसान नेताओं ने लखनऊ में बात करने के बाद 21 फरवरी को बैठक कर उत्तर प्रदेश किसान मजदूर मोर्चा का गठन किया और आंदोलन को मजबूत बनाया जाए इस पर चर्चा की गई और यह तय किया गया कि देश में लगभग 85% किसान छोटे और मझोले किसान हैं जो कि दिल्ली नहीं आ सकते तथा इन बातों को ध्यान में रखने के साथ-साथ यह भी विचार किया गया कि किसानों की खेती, पशुपालन का नुकसान ना हो तथा किसान किसी भी तरह से परेशान ना हो इस बात को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश के हर गांव में अनिश्चितकालीन क्रमिक अनशन किया जाएगा जिसका समय प्रातः 9:00 बजे से शाम 5:00 बजे तक रहेगा इस अनशन के दौरान किसान 11:00 से 3:00 तक तीनों कानूनों के बारे में चर्चाएं करेंगे तथा उसके बाद दो-दो मिनट का आपस में किसान परिचय भी देंगे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *