केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलायी गयी विभिन्न योजनाओं में बैंकों के भागीदारी और उनके द्वारा किये गये कार्यों की समीक्षा बैठक।

face warta |

गौतमबुद्धनगर:- जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर सुहास एल वाई की अध्यक्षता में अग्रणी जिला कार्यालय जिला गौतमबुद्धनगर के तत्वावधान में डीसीसी की आनलाइन बैठक शुक्रवार सम्पन्न हुई।केंद्र और राज्य सरकार द्वारा चलायी गयी विभिन्न योजनाओं में बैंकों के भागीदारी और उनके द्वारा किये गये कार्यों की समीक्षा इस बैठक में की गयी। बताया गया की जनपद में बैंकों का कुल जमा 31.12.2020 को 113111 करोड़ रूपए और कुल अग्रिम 61224 करोड़ रूपए था। इस तरह ऋण जमा अनुपात 54.13% रहा जो की प्रचलित मानकों के अनुसार उचित कहा जा सकता है। वित्तीय वर्ष 2020-21 के लिए प्राथमिकता-प्राप्त ऋण क्षेत्र के लिए ऋण वितरण का कुल टारगेट 10600.69 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया था जिसके सापेक्ष दिसम्बर 2020 तिमाही के अंत तक जनपद में 10113.42 करोड़ रुपये का ऋण वितरण किया जा चुका है जो को कुल टारगेट का 95.40% है। कृषि क्षेत्र के लिए वार्षिक लक्ष्य 997.95 करोड़ रुपये व एमएसएमई क्षेत्र के लिए 8160.72 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया था जिसके सापेक्ष दिसम्बर 2020 तिमाही के अंत तक क्रमशः 963.30 करोड़ रुपये (96.53%) व 7245.15 करोड़ रुपये (90.99%), का ऋण वितरण बैंकों द्वारा किया जा चुका है।आम जनों की सुरक्षा हेतु चलायी गयी विभिन्न योजनाओं, जैसे, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना,प्रधानमंत्री जीवन ज्योति योजना तथा अटल पेंशन योजना, की समीक्षा करते हुए बताया गया की वर्ष 2020-21 में प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के अंतर्गत 391325 लोग तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत 146576 लोग कवर किये गए हैं।

प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना के अंतर्गत गौतमबुद्धनगर में 78 बीमा-धारकों के परिजनों को लगभग 156 लाख रूपए का लाभ प्राप्त हुआ तथा प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना के अंतर्गत 314 बीमा-धारकों को लगभग 628 लाख रुपये का लाभ प्राप्त हुआ है। इसी तरह अटल पेंशन योजना के अंतर्गत 82186 लोग लाभान्वित हो चुके हैं। प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना में दुर्घटना में मृत्यु दावा के लिए बैंको में दावेदार को मृतक का एफआईआर, पोस्टमार्टम रिपोर्ट, मृत्यु प्रमाण पत्र और केवाईसी ससमय उपलब्ध कराने पर बीमा राशी का भुगतान प्राप्त किया जा सकता है। प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में साधारण मृत्यु दावा के लिए बैंको में दावेदार को मृतक का मृत्यु प्रमाण पत्र और केवाईसी ससमय उपलब्द कराने पर बीमा राशी का भुगतान प्राप्त किया जा सकता है। जनपद में 879913 जनधन खाते हैं जबकि 799253 चालू हालत में हैं जिनमे से जनधन ग्रामीण खातों की संख्या 219253 तथा अर्ध शहरी अवम शहरी खातों की संख्या 659820 है।एक जिला एक उत्पाद (ओडीओपी) योजना के अंतर्गत जनपद गौतमबुद्धनगर हेतु रेडीमेड गारमेंट्स उत्पाद को चयनित किया गया है। रेडीमेड गारमेंट्स उत्पाद के प्रोत्साहन हेतु ऋण योजना, साथ ही सरकार द्वारा चलायी गयी अन्य योजनायें जैसे पीएमईजीपी,एमवाईएसवाई में ऋण वितरण के निर्धारित लक्ष्यों को न केवल प्राप्त किया बल्कि उपलब्धि उससे भी अधिक रही। केनरा बैंक द्वारा संचालित सीबीआरसेटी द्वारा वित्तीय वर्ष 2020-21 में कुल 11 प्रक्षिक्षण कार्यक्रम आयोजित किये गये जिसमें 347 प्रक्षिक्षुओं को प्रक्षिक्षण दिया गया जिनमे 71 अनुसूचित जाति से,133 अन्य पिछड़ा वर्ग से, 62 अल्पसंख्यक वर्ग से व 347 महिलाएं रही हैं। इस समय जिले में 85 आधार केंद्र कार्यरत है जिनमे गत 30 दिनों में 7369 लोगो के आधार कार्ड बनाये गए जबकि 25877 लोगों के आधार कार्ड का संसोधन किया गया। जिलधिकारी द्वारा बैंकों के लिए कहा गया की सभी ऋणों का निस्तारण पूर्णतया ईमानदारी,पारदर्शिता और सही समय पर किया जाये ताकि लोगों को किसी तरह की असुविधा का सामना न करना पड़े। बैठक का एजेंडा अग्रणी जिला प्रबंधक वेदरत्न कुमार द्वारा प्रस्तुत किया गया। बैठक की अध्यक्षता जिलाधिकारी गौतमबुद्धनगर सुहास एल वाई द्वारा की गयी। बैठक में जिले के मुख्य विकास अधिकारी अनिल कुमार सिंह व जिले के अन्य सभी प्रमुख विभागों के पदाधिकारी, रिज़र्व बैंक व नाबार्ड के अधिकारी, जिले के सभी बैंकों के जिला समन्वयक, शाखा प्रबंधक, मुख्य शाखा प्रबंधक उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *