एनआईईटी ग्रेटर नोएडा में मिशन शक्तिश् अभियान के अंतर्गत कार्यक्रमों की शृंखला का समापन।

Face Warta (bharat bhushan
ग्रेटर नोएडा:- उत्तर प्रदेश सरकार के मिशन शक्ति अभियान में महिलाओं तथा बच्चों के विरुद्ध हिंसा से रोकथाम हेतु एनआईईटी ग्रेटर नोएडा में एकेटीयू के निर्देशानुसार नौ दिवसीय कार्यक्रम का समापन 25 अक्टूबर 2020 हुआ। इस अभियान में महिलाओं तथा बच्चो की हिंसा से रोकथाम पाक्सो कानून, लैंगिक समानता, घरेलू हिंसा तथा दहेज कानून, कन्या भ्रूणहत्या रोकथाम, बल्ल विवाह रोकथाम कोविड-19 से बचाव महिला तथा बाल कल्याणकारी योजनओं का प्रचार-प्रसार सुरक्षा शपथ तथा योद्धाओं का सम्मान इत्यादि कार्यक्रम आयोजित किए गए।
एनआईईटी की एडिशनल मैनिजिंग डायरेक्टर डॉ नीमा अग्रवाल ने नारी सुरक्षा तथा नारी सम्मान के लिए सरकार की पहल मिशन-शक्तिश् की सराहना की। उन्होने कहा कि नारी समाज के सृजन तथा विकास का आधार है। हमे देश के प्रत्येक नागरिक में नारी के प्रति सम्मान की भावना को जगाना होगा। डॉ नीमा ने कहा कि आज की नारी सशक्त है और पुरुषों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर जीवन के हर आयाम में अपनी सार्थकता को सिद्ध कर रही है।
एनआईईटी के एग्ज़ीक्यूटिव वाइस प्रेसिडेंट रमन बत्रा ने नारी सशक्तिकरण को आज का ज्वलंत विषय बताया तथा नारी के अस्तित्त्व की रक्षा के लिए प्रभावी कदम उठाने पर ज़ोर दिया।
सीमा दुर्रानी-एडवोकेट-दिल्ली उच्च न्यायालय ने लैंगिक समानता को लेकर अपने विचार प्रस्तुत किए। उन्होने कहा कि लैंगिक समानता के लिए समाज में इस विषय को लेकर व्यापक रूप से आवश्यक विषय वस्तु को प्रसारित किया जाना अत्यंत अववश्यक है। समाज सेविका तथा वकील आर के उषा ने पोक्सो कानून के विषय में महिलाओं तथा बच्चों के प्रति होने वाली घरेलू हिंसा से बचाव तथा दंड संबन्धित प्रावधानों पर विशद चर्चा की।
गौतमबुद्धनगर प्रशासन के प्रतिनिधियों अनिल कुमार सिंह-मुख्य विकास अधिकारी गौतमबुद्धनगर डॉ शिरीष जैन नोडल अधिकारी पीसी एंड पीएनडीटी सेल-गौतमबुद्धनगर शैलेंद्र बहादुर सिंह-जिला समाज कल्याण अधिकारी, गौतमबुद्धनगर तथा उत्तर प्रदेश महिला आयोग की उपधायक्ष श्रीमती सुषमा सिंह ने एनआईईटी ग्रेटर नोएडा कैंपस में आयोजित कार्यक्रम में महिला सशक्तिकरण पर अपने व्याख्यान प्रस्तुत किए। डॉ विनोद कापसे-निदेशक एनआईईटी ने श्मिशन शक्तिश् अभियान के सफल आयोजन हेतु गौतमबुद्धनगर जिला प्रशासन तथा एकेटीयू के मार्गदर्शन की सराहना की। डॉ कापसे ने संस्थान में ष्मिशन.शक्तिष् के अंतर्गत कार्यक्रमों का सफलतापूर्वक संचालन करने के लिए डॉ गज़ाला नाज़, प्रो रेशम, डॉ पूजा त्यागी , डॉ रश्मि मिश्रा, डॉ अंजना रानी गुप्ताए डॉ अंकिता शर्मा, प्रो कनिका जिंदल तथा अन्य सभी शिक्षकों एवं कर्मचारियों को धन्यवाद ज्ञापित किया।

नोएडा इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी
एनआईईटी ग्रेटर नोएडा उत्तर प्रदेश का पहला प्रतिष्ठित निजी ऑटोनामस शिक्षण संस्थान है जो सभी वर्गों के छात्रों को उच्च गुणवत्ता की शिक्षा प्रदान करता है। अटल रैंकिंग ऑफ इंस्टीट्यूशंस ऑन इन्नोवेशन अचीवमेंट्स (एआरआईआईए-2020) एनआईईटी ग्रेटर नोएडा को देश के निजी उच्च शिक्षा संस्थानों की श्रेणी में शीर्ष 50 संस्थानों में स्थान मिला है। एनआईआरएफ 2020 में एनआईईटी के फार्मेसी इंस्टीट्यूट ने देश में में 49 वांस्थान प्राप्त किया तथा एनआईईटी इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट 201 250रैंक बैंड में शामिल है। एनआईईटी के बीटेक कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंगए इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंगए मैकेनिकल इंजीनियरिंगए इन्फोर्मेशन टेक्नोलोजी, बायोटेक्नोलोजी तथा बी फार्मा कोर्स एनबी, एक्रिडिटेड हैं तथा संस्थान नैक(ए ग्रेड, 3.23) एक्रिडिटेड है। एनआईईटी इन चारों प्रशस्तियों को हासिल करने वाला उत्तर प्रदेश का अकेला संस्थान है।

एनआईईटी ने विश्व की अनेकों बहुराष्ट्रीय कंपनियों के साथ गठबंधन किया है जिनमें मर्सिडीज़-बेंज़एडीएएम लैबए एप्पल यूनिवर्सिटी प्रोग्राम पार्टनर ए सिस्को नेटवर्किंग एकेडमी, ऑटोमेशन एनीव्हेयर, यूआईपाथ एकेडमिक अलायंस, इंटेल एआई एकेडमी, पीटीसी सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, अमेजॉन वेब सर्विसेज, पियरसन टेस्टिंग सेंटर ,कैंब्रिज इंग्लिश लैंग्वेज एसेसमेंट सेंटर, ओरेकल वर्कफोर्स डेवलपमेंट प्रोग्राम, डेल.ईएमसी एकेडमी, डेल्टा सेंटर ऑफ रोबोटिक्स, आईबीएम-वाटसन आईओटी लैब, पालो आल्टो एकेडमी, पेगा सेंटर ऑफ एक्सीलेंस, सेल्सफोर्स एकेडमी, बीएमडब्ल्यू स्किल नेक्स्ट प्रोग्राम, केपीआईटी स्पार्कल एआरसी एडवांस्ड रोबोटिक कंट्रोल लैब (इंडो-यूरो सिंकएजर्मनी) विप्रो जीईए कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग पुणे, सैप एकेडमी, इंटेल इंटेलिजेंस सिस्टम्स लैबए वीएम वेयर लैब आदि प्रमुख हैं। एनआईईटी के द्वारा इनमें से प्रत्येक गठबंधन के लिए सेंटर ऑफ कोम्पीटेन्स की स्थापना की गई है जिनका उद्देश्य शिक्षा को प्रोत्साहित करना तथा इंजीनियरिंग अध्ययन को वृहद तकनीकी एवं अंत रू विषयक संदर्भ में प्रसारित करना है। ये 24+ इन्नोवेशन प्रयोगशालायें विद्यार्थियों के ज्ञान के तकनीकी विकास के लिए पूर्ण रूप से समर्पित हैं जिससे कि उन्हें उद्योग जगत के नवीनतम मानदंडों के अनुसार तैयार किया जा सके।

अधिक जानकारी के लिए -: www.niet.co.in

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *