आई0टी0एस0 इंजीनियरिंग काॅलेज के एप्लाइड हैल्थ सांइस विभाग ने तीन द्विवसीय वेबिनार श्रंखला का आयोजन किया।

भौतिक,रसायन तथा गणितीय विज्ञान पर बेविनार

ग्रेटर नॉएडा(फेस वार्ता):- आई0टी0एस0 इंजीनियरिंग काॅलेज के एप्लाइड हैल्थ सांइस विभाग ने तीन द्विवसीय वेबिनार श्रंखला का आयोजन किया। श्रंखला का पहला सत्र ‘‘परिधीय समस्याओं के लिए परिमित अंतर विधि‘‘ पर आधारित था।
द्वितीय सत्र भौतिक विज्ञान सामाजिक लाभ के लिए रणनीतिक ल्यूमिनसेंट पर आधारित था तथा तृतीय सत्र स्पेक्ट्रोस्कोचिक परिपे्रक्ष्य से संगीन रसायन विज्ञान पर आधारित था। वेबिनार के मुख्य वक्ता डाॅ0 विपिन कुमार गुप्ता, प्रधान वैज्ञानिक नई दिल्ली तथा डाॅ0 अर्चना , प्रोफेसर, नई दिल्ली विश्वविद्यालय, वेबिनार के मुख्य वक्ता डाॅ0 सुशील कुमार, सहायक प्रोफेसर, गौतम बुद्ध विश्वविद्यालय, गेटर नोएडा ने प्रतिभागियों को अपने अनुभव और ज्ञान के साथ परिधीय समीकरण स्थिरता और स्थिरता पर परिमित अंतर योजना के विषय पर बताया और कहा साधारण अंतर समीकरणों के लिए परिमित अंतर विधि एफडीएम रेखीय साधारण अंतर समीकरणों या गैर-रैखिक आंषिक अंतर समीकरणें को समीकरणों की एक प्रणाली में परिवर्तित करते हैं

जो मैट्रिक्स बीजगणित तकनीकों द्वारा हल किया जा सकता है। वेबिनार को संचालन कर रह संयोजक डाॅ0 निधि पुरी ने कहा कि वेबिनार का मुख्य उद्धेश्य नवीन गणितीय तकनीकों, भौतिक विज्ञान तथा रसायन विज्ञान पर बौद्धिक विचार विमर्श के लिए एक मंच प्रदान करना था। विभागाध्यक्ष डाॅ0 ओ0पी. सिंह ने बताया कि आज एफ0डी0पी0डी0ई0 के संख्यातमक समाधान के लिए प्रमुख दृष्टिकोण है। इस वेबिनार में देश के विभिन्न क्षेत्रों के संकाय, शोधकर्ता और छात्र प्रतिभागियों ने भाग लिया। वेबिनार के अंत में प्रश्न और उत्तर का सत्र रखा गया जिसने वेबिनार को इंटरैक्टिव और जीवंत कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *