शिवभक्तों व सनातनियो ने एकत्रित होकर वाराणसी के ज्ञानवापी मंदिर में बाबा काशीविश्वनाथ शिवलिंग के प्रकट होने के पर मुक्तेश्वर महादेव मंदिर,पर महादेव का भोग लगाकर प्रसाद वितरण किया।

फेस वार्ता। निरंजन शर्मा:-

गढ़मुक्तेश्वर

आज गढ़मुक्तेश्वर में स्थित मुक्तेश्वर महादेव मंदिर में शिवभक्तों व सनातनियो ने एकत्रित होकर वाराणसी के ज्ञानवापी मंदिर में 12 फूट 8 इंच व्यास व 4 फुट लंबे बाबा काशीविश्वनाथ शिवलिंग के प्रकट होने के आनन्दित पल पर मुक्तेश्वर महादेव मंदिर,नक्का कुआँ पर महादेव का भोग लगाकर प्रसाद वितरण किया गया।

समस्त शिवभक्तों ने अपनी प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि वाराणसी में अब से लगभग 350 वर्ष पूर्व दुर्दांत अक्रांता औरंगजेब ने काशीविश्वनाथ मन्दिर को विध्वंस कर मंदिर के स्थान पर ही मस्जिद का निर्माण किया था,जिसे पर अब वाराणसी जिला न्यायालय के द्वारा किये गए सर्वे में बाबा काशीविश्वनाथ का शिवलिंग प्रकट होना इस बात का सबसे बड़ा सबूत है कि काशीविश्वनाथ का मंदिर ज्ञानवापी मस्जिद के स्थान पर ही है।

जिस प्रकार अयोध्या में बाबरी मस्जिद के स्थान पर न्यायालय के आदेश अनुसार भव्य राम मन्दिर का निर्माण किया जा रहा है उसी प्रकार ज्ञानवापी मस्जिद के स्थान पर अब तुरंत ही न्यायालय के आदेश अनुसार भव्य व दिव्य मंदिर का निर्माण अतिशीघ्र होना चाहिये।

इस अवसर पर सभी शिवभक्त व गणमान्य व्यक्ति उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.