एमिटी यूनिवर्सिटी ने लंदन में किया तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस का आयोजन।एमिटी यूनिवर्सिटी ।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा

तीन दिवसीय कार्यक्रम में सैकड़ों शोध पत्र प्रस्तुत हुए, दुनिया भर के लगभग दो दर्जन से अधिक देशों के शोधर्थियों ने हिस्सा लिया।

एमिटी यूनिवर्सिटी ने लंदन में किया तीन दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय कांफ्रेंस का आयोजन।एमिटी यूनिवर्सिटी ग्रेटर नोएडा और लंदन के संयुक्त तत्वाधान में 27- 29 अप्रैल को इंटेलीजेंट इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट पर IEEE (यूके) के साथ 4 वें अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन किया गया। यह कॉन्फ्रेंस एमिटी एवं इंस्टिट्यूट ऑफ़ इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित की गयी। इस अवसर पर देश विदेश के अनेको शिक्षाविद, वाइस चांसलर, शोधार्थी उपस्थित थे , कार्यक्रम का शुभारम्भ एमिटी के चांसलर डॉ अतुल चौहान ने किया। इस अवसर पर वीरेंद्र शर्मा, संसद सदस्य- यूके, माइक हिंचे, निदेशक, डॉ नेस्लिन वॉटसन-ड्रयु, निदेशक, वेफ बर्मिंघम, यूके, श्री राज भट, श्री ताहा, अध्यक्ष (यूकेएबीसी), प्रोफेसर अल्लम अहमद उपस्थित थे।इस तीन दिवसीय कार्यक्रम में सैकड़ों शोध पत्र प्रस्तुत हुए, दुनिया भर के लगभग दो दर्जन से अधिक देशों के शोधर्थियों ने हिस्सा लिया।

शोधार्थियों ने अपने किये गए रिसर्च से सब को अवगत कराया, और उपस्थित लोगो की शंकाओं का समाधान किया। कार्यक्रम के समापन समारोह में अनेक अतिथियों ने हिस्सा लिया जिनमे एमिटी ग्रुप के चांसलर डॉ अतुल चौहान, एमिटी के ग्रुप वाईस चांसलर डॉ गुरिंदर सिंह जी के महादेव् सीईओ, सेल्वा पंकज सीईओ प्रमुख रहे। इस अवसर पर पैट्रिसिया स्कॉटलैंड महानिदेशक, कॉमनवेल्थ नेशंस को लाइफ टाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया। डॉ गुरिंदर सिंह ने सभी अतिथियों का अभिवादन करते हुए कांफ्रेंस में देश विदेश से आकर सम्मिलित होने तथा अपना बहुमूल्य समय देने के लिए आभार प्रकट किया। उन्होंने कहा की इस तरह के आयोजन विज्ञान और तकनिकी के क्षेत्र में अतुलनीय योगदान देते हैं। सर्वोच्च शोधार्थियों को सम्मानित भी किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.