फेस्ट्रोनिक्स 1.0′ – लॉयड इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के टेक्निकल फेस्ट में दिखी विद्यार्थियों की प्रतिभा।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा


ग्रेटर नोएडा: ‘फेस्ट्रोनिक्स 1.0’ – लॉयड इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी के टेक्निकल फेस्ट में दिखी विद्यार्थियों की प्रतिभा

लॉयड इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में शुक्रवार 29 अप्रैल 2022 को आयोजित टेक्निकल फेस्ट ‘फेस्ट्रोनिक्स 1.0’ में कई प्रतियोगिताएं हुईं। फेस्ट का उद्घाटन प्रख्यात शिक्षाविद एवं शांति स्वरुप भटनागर पुरुस्कार से सम्मानित जेएनयू के रिटायर्ड प्रोफेसर कर्मेशु ने किया। प्रोफेसर कर्मेशु ने एक प्रेरक भाषण दिया और इस मेगा इवेंट को लाने के लिए आयोजकों, विशेष रूप से छात्रों द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि डिजिटल प्लेटफॉर्म और अन्य डिजिटल टूल भी हमें एक सर्कुलर इकोनॉमी की ओर ट्रांज़िशन प्राप्त करने में मदद करेंगे, लेकिन यह याद रखें कि उनका बुद्धिमानी से और मजबूत फोकस के साथ उपयोग हो|

क्लाउडसेंट्रिक इंफोटेक के प्रदीप शुक्ला व समीर अग्रवाल, एजीबीइ टेक्नोलॉजीज की डॉ.मंजू अग्रवाल ओर नार्थकैप विश्वविद्यालय की डॉ. अंजली गर्ग विशिष्ट अतिथिगण के रूप में उपस्थित थे | लॉयड ग्रुप की ओर से अध्यक्ष मनोहर थैरानी और महासचिव अनिल वासवानी ने मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम के समापन सत्र के दौरान पुरस्कार वितरण समारोह आयोजित किया गया जिसमें विभिन्न श्रेणियों के तहत प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार प्रदान किए। संस्थाध्यक्ष मनोहर थैरानी ने लॉयड कैंपस में इस तरह के और अधिक तकनीकी कार्यक्रमों की मेजबानी करने के संकेत देते हुए कहा कि इस तरह के तकनीकी कार्यक्रम न केवल छात्रों में छिपी प्रतिभा को सामने लाता है बल्कि युवा दिमाग और राष्ट्र के भविष्य को आकार देने में भी मदद करता है।


ग्रुप डायरेक्टर प्रो.(डॉ.) वंदना अरोरा सेठी ने कहा कि इस फेस्ट का मुख्य उद्देश्य युवाओं की तकनीकी विकास कौशल को बढ़ाना है। उन्होंने बताया कि फेस्ट ‘फेस्ट्रोनिक्स 1.0’ में देशभर के विभिन्न विश्वविद्यालयों, विद्यालयों एव महाविद्यालयों के एक हजार से अधिक विद्यार्थियों ने भाग लिया| संस्थान की निदेशक प्रो. (डॉ.) ज्योत्सना सिंह ने बताया कि थीम ‘सर्कुलर इकॉनमी’ के तहत साइंस प्रोजेक्ट प्रदर्शन, जंक वॉर, वेब स्पिन, रोबो वार्स, रंगोली, तकनीकी प्रश्नोत्तरी, तकनीकी पोस्टर मेकिग, शार्क टैंक, एक्सटेम्पोर, सर्किट डिज़ाइन आदि प्रतियोगिताएं आयोजित की गयीं| उन्होंने बताया कि पूरे इवेंट के आयोजन के लिए सभी स्टूडेंट्स और टीचर्स ने दिनरात मेहनत की है। भविष्य में कुछ नए बदलाव और आइडिया के साथ आयोजन किया जाएगा। कार्यक्रम के अंत में मैकेनिकल इंजीनियरिंग के विभागाध्यक्ष डॉ. जे.एम. गिरि ने वोट ऑफ़ थैंक्स दिया| इस दौरान फेस्ट की मुख्य समिति के सदस्य प्रो. दीपिका अरोरा एवं प्रो.अश्विनी कुमार सहित तमाम संकाय सदस्य उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.