पैपरफ्राई ने हरियाणा के गुरुग्राम में खोला एक नया स्टूडियो।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा:-

उत्तरभारत में बिक्री के सभी तरीकों वाले कारोबार पर बनेगी पकड़ मजबूत

हरियाणा 12 अप्रैल, 2022:

 र्नीचर और घरेलू उपयोग के सामान के क्षेत्र में भारत के नम्बर-1 विक्रेता पैपरफ्राई ने हरियाणा के गुरूग्राम में अपना बाजार खोलने की घोषणा की है। कम्पनी का यह ऑफलाइन विस्तार विशेष खरीदारों के बीच अपनी जगह बनाने तथा भारत के फर्नीचर और घरेलू इस्तेमाल की चीज़ों के क्षेत्र में सबसे बड़ा बहु-चैनल कारोबार खड़ा करने की नीति के तहत ही है।

पैपरफ्राई ने 2014 में अपना पहला स्टूडियो या बाजार शुरू किया था। तब से अब तक देश के 80 से ज़्यादा शहरों में इसकी 150 से भी अधिक शाखायें खुल चुकी हैं।

पैपरफ्राई ने सैक्टर 47 के एस एस प्लाज़ा में गुरुग्राम के अपने स्टूडियो की शुरुआत एन जे स्टूडियो के साथ मिलकर की है। 695 वर्ग फुट क्षेत्र में बने इस स्टूडियो में ग्राहकों को मिलेंगी खास किस्म की शिल्पकारी से सुसज्जित फर्नीचर की रेंज जोकि पैपरफ्राई की वेबसाइट पर मौजूद एक लाख से ज़्यादा अलग-अलग उत्पादों में से खासतौर पर चुने गये हैं। इस स्टूडियो में खरीदारों को इन फर्नीचरों को रूबरू देखने का मौका मिलेगा ताकि वे खरीदने से पहले वे इन कीमती उत्पादों की लकड़ी की फिनिशिंग और क्वालिटी की जांच-परख खुद कर सकें।

इतना ही नहीं यहां मुफ्त सलाह देने के लिए कम्पनी के डिज़ाइन एक्सपर्ट भी उपलब्ध होंगे जो ग्राहकों को अपने सपनों के घर की साज-सज्जा में मदद के लिये सलाह भी देंगे।  

अपने बहु-चैनल नेटवर्क की योजना को आगे बढ़ाते हुए पैपरफ्राई ने 2017 में, एक विशेष फ़्रेंचाइज़ मॉडल तैयार किया था और बहुत ही कम समय में पठानकोट, त्रिवेंद्रम, पटना, बेंग्लुरू, इंदौर, चेन्नई, गुवाहाटी और कोयम्बटूर आदि स्थानों में 90 फोफो (FOFO) स्टूडियोज स्थापित भी कर दिये।

इन फ़्रेंचाइज़ स्टूडियोज के लिए पैपरफ्राई ने उन बेहतरीन स्थानीय कारोबारियों के साथ हाथ मिलाया जोकि स्थानीय लोगों की डिमांड और स्थानीय चलन से अच्छी तरह वाकिफ थे। कम्पनी ने 2020 में भी
इसी फ्रेंचाइजी मॉडल को दोहराया ताकि इसका अधिक से अधिक लाभ मौजूदा और भविष्य के सभी फ़्रेंचाइज़ पार्टनर्स को मिलता रहे। कम्पनी ने डिज़ाइन एक्सपर्ट्स को भी साथ में जोड़ा ताकि ग्राहक उनसे सलाह लेकर अपने सपनों के घर में चार चांद लगा सकें।

अब कम्पनी ने एक पुरस्कार योजना भी शुरू की है जिसके तहत फ़्रेंचाइज़ स्टूडियो के माध्यम से प्रत्येक ऑनलाइन बिक्री पर फ़्रेंचाइज़ पार्टनर को 15 प्रतिशत कमीशन मिलेगी। पहले यह कमीशन 10 प्रतिशत थी।

जून 2021 में पैपरफ्राई ने पैपरफ्राई एक्सीलेरेटर प्रोग्राम की शुरुआत की जिसके तहत एक वर्ष में 200 से ज़्यादा स्टूडियो शुरू करने की योजना है। इस नये प्रोग्राम का मकसद वर्ष के बाकी दिनों में हर रोज़ एक नए कारोबारी को जोड़कर ऑफलाइन बाज़ार में भी पैपरफ्राई का विस्तार करना है। हालांकि इस नए प्रोग्राम में कैपेक्स (Capex) का अंतर है। यह 15 लाख रुपये है जोकि मौजूदा फ्रेंचाइजी प्रोग्राम का एक तिहाई ही है। दोनों ही मॉडल कारोबार से जुड़े सभी पक्षों के परस्पर हित में ही हैं।

इस नए स्टूडियो के लांच के मौके पर बोलते हुए पैपरफ्राई की बिज़नस हैड अमृता गुप्ता ने कहा कि हमारा मकसद ग्राहकों को सभी बिक्री चैनलों पर उपलब्ध रहकर किफायती दामों में अधिक से अधिक वैराइटी मुहैया कराना है। आजकल लोग अपने घर के भीतरी माहौल को लेकर बहुत सजग हो गये हैं और अपना खर्च इस तरह का घर बनाने पर कर रहे हैं ताकि उन्हें घर मे जगह भी पूरी मिले और घर सुंदर भी दिखे। उम्मीद है कि हम इसमें ग्राहकों की पूरी मदद कर पायेंगे।

एनजे स्टूडियो के ओनर्स अरविंद जामवाल और नलिनी गोयल ने पैपरफ्राई के साथ जुड़ने पर खुशी जताते हुए कहा कि पैपरफ्राई ने फर्नीचर और घरेलू इस्तेमाल के उत्पादों का सबसे बड़ा बाजार बनने की एक खास बहु-चैनल बिज़नस योजना बनाई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.