ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर के रहने वाले हितेंद्र ने यूक्रेन के कीव शहर से किया विडियो जारी ।

फेस वार्ता

यूक्रेन में फंसे छात्र ने इंडियन एम्बेसी से मांगी मदद: हितेंद्र कीव की यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है । वह प्रथम वर्ष का छात्र हैं।

हिंतेंद्र के चाचा मनोज चौधरी ने बताया कि कल रात 11:30 बजे उससे बातचीत हुई थी और वह काफी परेशान था

कीव में बंकर में फंसा भारतीय छात्र, परिजनों हुए परेशान ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर के रहने वाले हितेंद्र ने यूक्रेन के कीव शहर से एक वीडियो जारी किया है। इस वीडियो में हिंतेंद्र ने इंडियन एम्बेसी से मदद मांगी है और अपने दर्द को बया किया है। हितेंद्र कीव की एक यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है। इस समय वह अपने कुछ साथियों के साथ बंकर में फंसा हुआ है।

हितेंद्र कीव की यूनिवर्सिटी से एमबीबीएस की पढ़ाई कर रहा है । वह प्रथम वर्ष का छात्र हैं। हिंतेंद्र ने एक वीडियो जारी किया जिसमें पूरे बंकर को दिखाया है और बताया कि यहां से सभी जगह के छात्र जा चुके हैं और इसमें केवल अब हम भारतीय ही बचे हुए हैं । उन लोगों को डर है कि कहीं मिसाइल से बंकर को न उड़ा दिया जाए क्योंकि उनके पड़ोस में ही आर्मी बेस है, इस वजह से वहां निशाना बनाया जा सकता है। हितेंद्र ने इंडियन एम्बेसी से वीडियो में मदद मांगी है और कहां है कि इंडियन एम्बेसी उनकी मदद करें। हिंतेंद्र ने कहा है कि अगर इंडियन एम्बेसी उनकी मदद नहीं कर पाती है तो वह यहां पर मारे जाएंगे या तो उनके ऊपर मिसाइल गिर जाएगी या वह भूख से मर जाएंगे। जब से युद्ध शुरू हुआ है वो लोग इस बंकर में ही बंद है और यहां से धीरे-धीरे करके सभी देश के छात्र जा चुके हैं लेकिन अभी भी हम छात्र यहां पर ही मौजूद हैं। ऐसे में ग्रेटर नोएडा के तुगलपुर में उनके परिवार के लोग काफी परेशान हैं। हिंतेंद्र के चाचा मनोज चौधरी ने बताया कि कल रात 11:30 बजे उससे बातचीत हुई थी और वह काफी परेशान था और कह रहा था कि यहां से सब लोग जा चुके हैं ,अब यहां पर कुछ ही लोग बचे हुए हैं। लगातार बम और गोलियों की आवाज आ रही हैं और भूख से भी बुरा हाल है लेकिन एम्बेसी की तरफ से अभी कोई स्पष्ट जवाब नहीं मिल रहा है । परिवार के लोग सरकार से भी जल्द से जल्द मदद की गुहार लगा रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.