ग्रेटर नॉएडा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलोजी आईपीयू कॉलेज के ओरिएंटेशन प्रोग्राम के साथ शैक्ष्रिक सत्र का आगाज

Face Warta / BharatBhushan Sharma

ग्रेटर नॉएडा के नालेज पार्क2 प्लाट न० 6-C स्थित श्री० राम एजुकेशन ट्रस्ट द्वारा संचालित ग्रेटर नॉएडा इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलोजी -आईपीयू कॉलेज (कॉलेज कोड .272 अफ़्लिएशन गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी दिल्ली) के बी टेक (प्रोग्राम कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग आईटी एम, ई और ई.सी.ई) प्रथम वर्ष के छात्र-छात्रायो के लिए एक आन लाइन ओरिएंटेशन प्रोग्राम का आयोजन 14 दिसम्बर 2020 को किया गया इस अवसर पर संस्थान के चेयरमैन श्री बी एल गुप्ता ने कहा मंजिल उन्ही को मिलती जिनके सपनो में जान होती है पंखों से कुछ नही होता हौसलो से उड़ान होती है । उन्होंने बच्चो को प्रोत्साहित करते हुए कहा की आपकी मेहनत ही आपका असली दोस्त है दुनिया मे हर चीज आपका साथ छोड़ सकती है लेकिन यहां अर्जित किया हुआ ज्ञान आपके साथ हमेशा रहेगा । इस अवसर पर सिनिएर्स विद्यार्थियों द्वारा वेर्चुअल रंगारंग कार्यक्रम आयोजित किया गया । इस मौके पर मुख्य अतिथि श्री विशाल सक्सेना, डेटा एक्सपर्ट अक्सेन्चर अडवान्स्ड टेक्नॉलजी सेंटर इंडिया ने बी टेक़ प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों को सम्बोधित करते हुए कहा भारतीय आईटी इंडस्ट्री डिलिवरी पर फोकस करती रही है लेकिन अब इनोवेशन पर ध्यान दिया जा रहा है। डेटा विश्लेषण मशीन लर्निंग ब्लॉकचेन और इंटरनेट के मामले में स्पेशलिस्ट बनना और तकनीक पर पकड़ बनानी चाहिए।
‘’गेस्ट ऑफ़ ऑनर” लेफिटनेंट कमांडर भारतीय नौसेना के दीपक चतुर्वेदी ने इंजीनियरिंग के बाद भारतीय नौसेना में तकनिकी कैरिएर के बारे में छात्रों को विस्तार से बताया।
इस अवसर पर पर्सनालिटी डेवलपमेंट ट्रेनर अनुपमा गीदयाल ने नये छात्रों को जॉब इंटरव्यू के लिए टिप्स देते हुए सबसे जरुरी आत्मविश्वास तथा आवाज (कम्युनिकेशन) को बताया।
कार्यक्रम में संस्थान के निदेशक डा ण् सुधीर कुमार ने बच्चो और उनके अभिभावकों को कॉलेज के बारे में विस्तृत जानकारी दी और प्रोजेक्टर के माध्यम से कॉलेज का परिचय कराया । बच्चोमें जोश भरते हुए उन्होंने ने कहा कि श् मेहनत इतनी खामोशी से करो कि सफलता शोर मचा देश्। बच्चो को कहा कि अब आप पर कॉलेज का झंडा बुलंद करने की जिम्मेवारी है जैसे पूर्व के छात्रों ने किया है ए हमारा एकमात्र लक्ष्य है कि आप जब इस कॉलेज से जाये तो आपके हाथों में जॉब हो और अब तक हम इसमे सफल भी हुए है। कार्यक्रम का समापन राष्ट्रगान से हुआ ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.