विश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर आई० टी० एस० डेंटल कॉलेज ग्रेटर नोयडा ने शिविर के माध्यम से किया लोगों को जागरूक।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा 

FaceWarta.in 

ग्रेटर नोएडा में आई० टी० एस० डेंटल कॉलेज, हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सैंटर पर विश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर आई० टी० एस० डेंटल कॉलेज ग्रेटर नोयडा ने शिविर के माध्यम से किया लोगों को जागरूक किया 

संस्थान द्वारा मरीजों को पोषण पोटली का वितरणविश्व क्षय रोग दिवस के अवसर पर दिनांक 24 मार्च 2023 को आई० टी० एस० डेंटल कॉलेज ग्रेटर नोएडा द्वारा शिविर एवं सेमिनार के माध्यम से लोगों को जागरूक किया गया।

इस अवसर पर संस्थान के प्रधानाचार्य डॉ. सचित आनंद अरोरा ने बताया कि संस्थान द्वारा सिकंदराबाद के मरीजों को क्षय रोग के प्रति जागरूक करने हेतु एक शिविर का आयोजन भी किया जिममे संस्थान की तरफ से 300 से अधिक मरीजों को चना, गुड़, मूंगफली, सत्तू एवं बिस्किट आदि के मिश्रण युक्त पोषण पोटली का भी वितरण किया। क्षय रोग के संस्थान द्वारा आयोजित सेमिनार में जागरूकता हेतु डॉ. निकिता आनंद ने छात्रों एवं चिकित्सकों को सम्बोधित करते हुए बताया टीबी माइकोबैक्टीरियम ट्यूबरक्लोसिस नाम के बैक्टीरिया की वजह से होती है। यह एक बैक्टीरियल संक्रमण है जो फेफड़ों पर असर डालता है। स्किन या ब्लड टेस्ट के जरिए इसे पता लगाया जा सकता है वहीं एक्टिव टीबी में 3 हफ्ते से ज्यादा तक कफ बना रह सकता है। छाती में दर्द, खांसी में खून आना, थकान, रात में पसीना आना, ठंड लगना, बुखार, भूख ना लगना और वजन कम हो जाना इसके मुख्य लक्षण हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.