गालीबाज श्रीकांत त्यागी को मेरठ से किया गिरफ्तार ।

 

कमिश्नरेट गौतमबुद्धनगर पुलिस द्वारा ग्रैंड ओमेक्स सोसायटी में महिला के साथ अभद्रता करने वाले वांछित अभियुक्त श्रीकांत त्यागी व उसके 03 साथियों की गिरफ्तारी करने के सम्बन्ध में-

दिनांक- 05.08.2022 को सोशल मीडिया पर महिला के साथ एक व्यक्ति के द्वारा अभद्रता, गाली गलौज व हाथापाई किये जाने का वीडियो वायरल हुआ था, जिस पर नोएडा पुलिस द्वारा स्वतः त्वरित संज्ञान लेकर पीड़िता महिला से तहरीर प्राप्त कर तत्काल थाना फेस 2 नोएडा पर मु0अ0सं0- 329/22 धारा- 354/323/504/506/447 भादवि बनाम श्रीकांत त्यागी पुत्र स्व0 दिनेश चन्द्र त्यागी मूल पता वर्षा धर्म कांटा भंगेल वर्तमान पता 003 एलेक्जेन्ड्रा डी ग्रांड ओमेक्स थाना फेस 2 नोएडा पंजीकृत किया गया। अभियुक्त श्रीकांत त्यागी घटना के पश्चात फरार हो गया था। दौराने विवेचना ज्ञात हुआ कि अभियुक्त श्रीकांत त्यागी एक दंबग व आपराधिक मानसिकता का व्यक्ति है। जो अपने गैंग के सदस्य राहुल पुत्र सतवीर निवासी लिसडी थाना सिम्भावली जनपद हापुड़ के साथ मिलकर, जनता में भय की स्थिति उत्पन्न कर अपने निजी व गैंग के लाभ हेतु आपराधिक गतिविधियां कारित करता है। इस उद्देश्य से उसके द्वारा अपने वाहनो पर प्रतिरूपण व छल करके उत्तर प्रदेश शासन, विधायक आदि का मोनोग्राम लगाकर नागरिकों पर रौब गांठते हुए भय कारित किया जाता था और वाहनो पर वीआईपी नम्बर प्लेटो का प्रयोग किया जाता था । शासन की प्राथमिकता के अनुसार महिला सम्बन्धी अपराधो में “जीरो टॉलरेन्स” की नीति के अनुरूप प्रकरण को बेहद गम्भीरता एंव चुनौती के रूप में लेकर तत्काल अभियुक्त श्रीकांत त्यागी और राहुल की गिरफ्तारी हेतु 12 टीमों का गठन किया गया। अभियुक्त श्रीकांत त्यागी द्वारा उक्त अपराधो से अर्जित किये गये 04 वाहन, जिनमें 02 फोरचूनर कार रजि0नं0 – UP32 KK 0001 व UP 32 HH 0001 तथा 02 टाटा सफारी रजि0 नं0- UP32KS0001 व होण्डा सिविक नं0- HR51AK0700 को कब्जा पुलिस में लिया गया है। उक्त फोरचूनर वाहनो पर उ0प्र0 शासन के चिन्ह व मोनोग्राम लगाये गये थे। अभियुक्त श्रीकांत द्वारा अपराध जगत में रहते हुए अपने सगे चाचा उमेश चन्द त्यागी की लाईसेंसी पिस्टल को जनता में भय पैदा करने के उद्देश्य से रखने की बात प्रकाश आने पर लाईंसेंस निरस्त कराने की कार्यवाही की गई है। अतः समाज विरोधी कृत्यो में लिप्त होने के तथ्य पाये जाने पर गैंगस्टर अधिनियम के अन्तर्गत गैंग लीडर श्रीकांत त्यागी व गैंग सदस्य राहुल उपरोक्त के विरूद्ध अभियोग पंजीकृत किया गया तथा अभियुक्त श्रीकातं त्यागी के विरूद्ध 25000/- रूपये का पुरूष्कार घोषित किया गया। महिला संबंधी अपराध होने के कारण इस प्रकरण को अत्यन्त गम्भीरता एवं संवेदनशीलता के दृष्टिगत अभिय़ुक्त श्रीकांत की गिरफ्तारी हेतु गठित 12 पुलिस टीमों के साथ साथ फिजिकल/ टेक्नीकल सर्विलांस का भी 24X7 उपयोग करते हुए हर संभव प्रयास किया गया । गठित टीमें उत्तराखंड के हरिद्वार, ऋषिकेश, रूड़की, उत्तरप्रदेश के गाजियाबाद , मेरठ, हापुड़, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़ सहित विभिन्न जनपदो में लगातार अभियुक्त श्रीकांत त्यागी की तलाश कर रहे थे और सम्भावित स्थानो / टोल / मार्केट आदि के सीसीटीवी का अवलोकन कर रहे थे। सीसीटीवी फुटेज में यह अभियुक्त कई स्थानो पर देखा गया जिससे पुलिस टीम को उसकी सटीक लोकेशन प्राप्त हुई। अभियुक्त श्रीकांत की लोकेशन अनेकों स्थानों पर मिली परन्तु यह शातिर अभियुक्त टीम के वहाँ पहुँचने से 15-20 मिनट पूर्व ही निकल जा रहा था। पुलिस टीम को मुखबिरो तथा इलैक्ट्रोनिक सर्विलांस से लगातार उसकी लोकेशन प्राप्त हो रही थी और किसी भी समय अभियुक्त की गिरफ्तारी संभंव थी। महिला संबंधी अपराध होने के कारण महिला पुलिस अधिकारी भी इन टीमों को निर्देशित करते हुए निरंतर सहयोग प्रदान कर रही थीं। आज दिनांक- 09.08.2022 को यह जानकारी प्राप्त होने पर ही अभियुक्त श्रीकांत अपने साथी राहुल के साथ ऋषिकेश से चलकर दिल्ली मेरठ एक्सप्रेस वे होते हुए गौतमबुद्धनगर आयेगा और न्यायालय में आत्मसमर्पण का प्रयास करेगा। यह जानकारी प्राप्त होने पर 04 नजदीकी पुलिस टीमों द्वारा परतापुर लूप मेरठ बाईपास पर एकत्र होकर रणनीति बनाकर टीम के सदस्यो को गिरफ्तारी हेतु लगाया गया और कुछ समय पश्चात ग्रे कलर की बलेनो कार रजि0नं0 UP16CV 6665 पर आ रहे उपर्युक्त अभियुक्त श्रीकांत त्यागी को पुलिस के वाहन लगाकर घेर लिया और इस प्रकार उसे मय सहयोगियो के समय करीब 10.30 बजे गिरफ्तार किया गया।*

अभियुक्त श्रीकांत व उसके सहयोगियो की गिरफ्तारी पर प्रमुख सचिव गृह महोदय द्वारा 02 लाख रूपये का पुलिस महानिदेशक महोदय द्वारा 01 लाख रूपये का तथा पुरस्कार प्रदान किया गया है।

गिरफ्तार अभियुक्तो का विवरण निम्नवत है-

1. श्रीकांत त्यागी पुत्र स्व0 दिनेश चन्द्र त्यागी मूल पता वर्षा धर्म कांटा भंगेल वर्तमान पता 003 एलेक्जेन्ड्रा डी ग्रांड ओमेक्स थाना फेस 2 नोएडा गौतमबुद्धनगर (गैंगलीडर)
2. राहुल पुत्र सतवीर निवासी लिसाडी थाना सिम्भावली जनपद हापुड (गैंग सदस्य)
3. नकुल त्यागी पुत्र स्व0 ओमप्रकाश त्यागी निवासी बरनावा थाना बिनौली जिला बागपत (मददगार)
4. संजय पुत्र श्री कृष्ण निवासी नखलई थाना नसीमपुर जिला फिरोजाबाद (मददगार)

अभियुक्तगण का आपराधिक इतिहास-

1- मु0अ0सं0- 099/2007 धारा 387 भादवि थाना फेस-2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
2-मु0अ0सं0- 635/2009 धारा 147/148/336/341/427 भादवि व 2/3 क्षति निवारण अधि0 व 7 सीएलए एक्ट थाना फेस-2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
3-मु0अ0सं0- 634/2009 धारा 147/336/427/504 भादवि व 7 सीएलए एक्ट थाना फेस-2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुनगर
4- मु0अ0सं0- 449/2015 धारा 147/323/506 भादवि थाना फेस-2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्दनगर
5-मु0अ0सं0- 386/2007 धारा ¾ गुण्डा एक्ट थाना फेस- 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
6- मु0अ0सं0- 514/2008 धारा 323/325/506/427/308 भादवि थाना सैक्टर 39 नोएडा कमिश्ररेट गौतमबद्ध नगर
7. मु0अ0सं0- 329/2022 धारा 354/323/504/506/447 भादवि थाना फेस- 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबद्धनगर
8- मु0अ0सं0- 335/2022 धारा 419/420/482 भादवि थाना फेस- 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
9- मु0अ0सं0- 339/2022 धारा 419/420/482 भादवि थाना फेस-2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
10. मु0अ0स0-340/2022 धारा 2/3 गैंगस्टर एक्ट थाना फेस -2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर

गिरफ्तारी करने वाली टीम

1. श्री पी. पी सिंह ACP-3 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
2. श्री अब्दुल कादिर ACP-1 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
3. निरीक्षक श्री महिप राज सिंह स्वाट टीम प्रभारी कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
4. निरीक्षक श्री अनिल कुमार थाना बीटा-2 ग्रे.नो. कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
5. उ0नि0 श्री सुजीत कुमार उपाध्याय पूर्व थानाध्यक्ष फेस 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
6. उ0नि0 नवशीष श्यौरान चौकी प्रभारी गेझा थाना फेस 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
7. उ0नि0 प्रदीप कुमार चौकी प्रभारी सैक्टर 110 थाना फेस 2 कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
8. उ0नि0 गौरव यादव थाना फेस 2 कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
9. उ0नि0 रोहित यादव थाना फेस 2 कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
10. है0का0 28 विकास राणा (सर्विलांस) थाना फेस 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
11. का0 2365 रवि सहरावत थाना फेस 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
12. का0 3626 सुधान्शु गुप्ता थाना फेस 2 सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
13.कां0 2228 विकुल थाना फेस 2, सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
14.कां0 905 जुबैर थाना फेस 2, सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर
15. कां0 50 गौरव थाना फेस 2, सेन्ट्रल नोएडा कमिश्ररेट गौतमबुद्धनगर

महिलाओं की सुरक्षा एवं सम्मान शासन की सर्वोच्च प्राथमिकता में से एक है, तदनुसार समस्त अधिकारीगण, थाना प्रभारी गण एवं पुलिस कर्मियों को इस आशय के सख्त निर्देश दिये गये हैं कि किसी भी महिला के साथ अपराध होने, उनकी गरिमा व सम्मान के प्रतिकूल कोई भी तथ्य प्रकाश में आने पर तत्काल कठोर विधिक कार्यवाही की जाये जिससे उनमें तथा नागरिको में शासन प्रशासन व कानून व्यवस्था के प्रति विश्वास की भावना और बलवती हो सके । साथ ही यह भी निर्देश दिया गया है कि नोएडा के विभिन्न आवासीय कालोनियों, सोसाइटीज आदि में अनियमितता, सुविधाओं को लेकर विवाद अथवा अन्य किसी प्रकार की समस्या ज्ञात होने पर तत्काल उसे संज्ञान में लिया जाये तथा अपने स्तर पर और अन्य विभागों से समन्वय स्थापित कर तत्काल निस्तारण कराया जाये जिससे कोई अप्रिय स्थिति ना उत्पन्न हो सके । समय समय पर RWA / AOA के पदाधिकारियों से वार्ता कर उपर्युक्त समस्याओं की जानकारी की जाये तथा वार्ता कर सुरक्षा गार्ड्स / सीसीटीवी की समुचित व्यवस्था सुनिश्चित करायी जाये । सुरक्षा गार्ड्स / सीसीटीवी को स्वयं समय समय पर चेक करे तथा मानक के अनुरूप ना पाये जाने पर पदाधिकारियो से वार्ता कर उन्हे व्यवस्थित कराया जाये।

विवाद की जड़ वो जमीन थी जिस पर पेड़ लगाने को लेकर आरोपी ने महिला के साथ अभद्रता की

नोएडा। फेस वार्ता:- पुलिस ने गालीबाज श्रीकांत त्यागी को मेरठ से गिरफ्तार किया है। श्रीकांत त्यागी कोर्ट में सरेंडर करने के प्रयास में था। इसकी भनक लगते ही पुलिस ने उसे धर दबोचा। नोएडा पुलिस आयुक्त ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि इस घटना को लेकर हमारी टीम को एक वीडियो की जानकारी मिलती है। जिसका त्वरित संज्ञान लिया गया। हमारी टीम ने संबंधित एसएचओ को उस वीडियो की जानकारी और उस परिवार से संपर्क करते हुए कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए। यह पांच तारीख की घटना थी। पुलिस ने पीड़ित से संपर्क किया और केस दर्ज किया। इसके साथ ही आरोपी की तलाश शुरू की।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी की गिरफ्तारी के लिए पहले आठ टीमों का गठन किया गया था। जिसमें महिला सुरक्षा की अधिकारी भी थीं। इसके बाद बड़ी टीम का गठन किया गया। जरूरत पड़ने पर 12 टीमों का गठन किया गया। इसके साथ ही मुख्य आरोपी का लगातार पीछा किया गया। आरोपी यूपी की सीमाओं से बाहर भी गया। हमारी टीम ने तकनीकी की भी मदद ली।

आरोपी श्रीकांत त्यागी बहुत शातिर तरीके से खुद को बचाने में लगा था। हमारी टीमों ने सतर्कता के साथ उसे आज मेरठ से गिरफ्तार कर लिया। विवाद की जड़ वो जमीन थी जिस पर पेड़ लगाने को लेकर आरोपी ने महिला के साथ अभद्रता की थी।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि आरोपी सबसे पहले दिल्ली से एयरपोर्ट की तरफ जाने की कोशिश की थी। लेकिन घटना का वीडियो काफी वायरल हो चुका था। जिस वजह से आरोपी मेरठ पहुंचा और अगले दिन यानी कि शनिवार को हरिद्वार पहुंचा। वहां से रविवार को वापस यूपी की सीमा में प्रवेश किया। रविवार शाम को इसने मेरठ, मुजफ्फरनगर और आसपास के इलाकों में इसकी सक्रियता देखी गई। इस दौरान इसने न केवल खुद को छुपाया बल्कि लगातार स्थान बदलता रहा। पुलिस को चकमा देने के लिए शातिर वाहन भी बदलता रहा।

गाड़ियों के नंबर ‘001’ के लिए लाखों रुपये खर्च किए-

पुलिस आयुक्त ने कहा कि हमारी टीमें इसकी हर गतिविधि पर पैनी नजर बनाए हुए थीं। नकुल त्यागी, संजय, ड्राइवर राहुल इसके मुख्य साथ हैं। ये सभी त्यागी के साथ लंबे समय से जुड़े हुए थे। कहा कि इसके पास जो वाहन मिले हैं, सभी में एक 001 की नंबर प्लेट मिली हैं। आरोपी ने सभी गाड़ियों के नंबर के लिए लाखों रुपये खर्च किए हैं।

गाड़ी पर लगा स्टीकर स्वामी प्रसाद मौर्य से मिला-

आरोपी की गाड़ी पर विधायक को मिलने वाला स्टीकर मिला है। उसका कहना है कि यह विधायक उसे स्वामी प्रसाद मौर्य के द्वारा मिला है। आरोपी पर गैंगस्टर एक्ट की कार्रवाई की जा रही है।

पांच गाड़ियां बरामद हुई हैं। दो फॉर्च्यूनर, दो सफारी और एक होंडा सिविक बरामद हुई है। कुछ गाड़ियां इसके और कुछ इसकी पत्नी के नाम पर हैं। इसको गाजियाबाद से मिले गनर मामले की भी जांच की जा रही है।

पुलिस आयुक्त ने कहा कि पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि महिला के साथ गई अभद्रता के लिए वह खेद जताता है। उससे आवेश में गलती हो गई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.