बारिश से निपटने को सीईओ ने किया अलर्ट।

फेस वार्ता। ग्रेटर नोएडा -12-07-22

बारिश से निपटने को सीईओ ने किया अलर्ट
जलभराव होने पर दी कार्रवाई की चेतावनी

नालियों व तालाबों की सफाई के दिए निर्देश

ग्रेटर नोएडा। ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ व मेरठ मंडलायुक्त सुरेन्द्र सिंह ने सभी वर्क सर्किल इंजीनियरों को निर्देश दिए हैं कि बारिश होने पर कहीं भी जलभराव न होने पाए। सभी वर्क सर्किल इंजीनियर अपने एरिया में अलर्ट पर रहेंगे। बारिष के दौरान एकत्रित पानी की निकासी के लिए पंप का इंतजाम रखें। अगर किसी इंजीनियर ने लापरवाही की तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सीईओ ने उन जगहों को चिंहित कर स्थायी समाधान निकालने के भी निर्देश दिए हैं।
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ सुरेन्द्र सिंह की तरफ से जारी निर्देश में कहा गया है कि ड्रेनेज सिस्टम को दुरुस्त रखें। अगर कूड़ा-करकट भर गया हो तो उसे दुरुस्त कर लें। सेक्टरों व गावों की सभी नालियोें को साफ रखें। गांवों में तालाबों की अगर सफाई न हुई हो तो उन्हें तत्काल साफ करा दें, ताकि गांवों में तालाब का पानी घरों तक न पहुंचे। अगर किसी नाले की सफाई नहीं हुई और उसकी वजह से लोगों को परेशानी हुई तो संबंधित अधिकारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सीईओ ने जनस्वास्थ्य विभाग को निर्देश दिए कि एंटी लार्वा का छिड़काव बडे़ पैमाने पर किया जाए। अगर कहीं झाड़ी उगी हो तो उसकी सफाई करा दें। सीईओ ने जल विभाग को जलापूर्ति में विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिए हैं। पानी को लेकर किसी तरह की शिकायत नहीं होनी चाहिए। सीवर लाइनों को भी दुरुस्त रखा जाए। इन निर्देशों पर तत्काल अमल करने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने सभी वर्क सर्किल इंजीनियरों के साथ बैठक की, जिसमें महाप्रबंधक में सभी ड्रेनों की लगातार सफाई कराने, सड़कों के किनारे जहां पर पानी रुके, वहां पनकटे बनाने, ड्रेन चैंबर ढकने, सीवर मैनहोल को ढकने, स्वच्छ जल की आपूर्ति, पाइप लाइन के लीकेज को दुरुस्त कराने, यूजीआर परिसर को साफ -सुथरा रखने, सभी पैनल बॉक्स व वाटर बॉक्स को कवर करने, विद्युत पैनल फीडर बॉक्स व पोल के आसपास जलभराव न होने देने, फॉगिंग व लार्वी साइड स्प्रे कराने और नियमित साफ-सफाई कराने के निर्देश दिए।

लीज प्लान में देरी पर होगी कार्रवाई

ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने सभी वर्क सर्किल अधिकारियों के साथ बैठक की, जिसमें महाप्रबंधक ने कहा कि लंबित लीज प्लान को शीघ्र जारी कर दें। किसी भी किसान को परेषानी नहीं होनी चाहिए। कोई भी लीज प्लान लंबित न रखेें। महाप्रबंधक ने वर्क सर्किलवार लीज प्लान से संबंधित प्रकरणों की समीक्षा की। महाप्रबंधक ने कहा कि अगर किसी प्रकरण में लापरवाही के चलते हाईकोर्ट या फिर सुप्रीम कोर्ट में अवमानना की स्थिति बनी और प्राधिकरण की छवि धूमिल हुई तो संबंधित इंजीनियर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
————
अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाएं
ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के महाप्रबंधक परियोजना एके अरोड़ा ने सभी वर्क सर्किल अधिकारियों के साथ बैठक में अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाने के निर्देश दिए। एके अरोड़ा ने कहा कि पुुलिस बल की उपलब्धता के अनुरूप अवैध निर्माण को ध्वस्त करने की कार्रवाई जारी रखें। प्राधिकरण की भूमि पर अवैध निर्माण को हटाने के निर्देश दिए। अवैध कालोनियों को ढहाने की कार्रवाई करें। इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। महाप्रबंधक ने सभी वर्क सर्किल अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि अपने क्षेत्र में प्राधिकरण की जमीन पर अवैध कब्जा करने वालों को चिंहित कर धारा 10 के अंतर्गत नोटिस जारी करें। ऐसे लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने के लिए थानाध्यक्षों को लिखित व ईमेल के जरिए पत्र भेजें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.