प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल, नोएडा इकाई व नर- नारायण धर्मार्थ सेवा समिति के सौजन्य से भंडारा।

फेस वार्ता। भारत भूषण शर्मा:-

नोएडा। उत्तर प्रदेश उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मंडल, नोएडा इकाई व नर- नारायण धर्मार्थ सेवा समिति के सौजन्य से नौ-देवी-अमरनाथ की सफल यात्रा पूरी कर लौटने के पश्चात हरौला सेक्टर 5 नोएडा में बुधवार को विशाल भंडारे का आयोजन किया गया।

अध्यक्ष नरेश कुच्छल व चेयरमैन रामअवतार सिंह ने बताया कि दोनों संगठन के द्वारा 100 लोगों का जत्था नोएडा से नौ देवी-अमरनाथ यात्रा के लिए 24 जून 2022 को रवाना हुई थी। यह जत्था सर्वप्रथम नई दिल्ली कालका जी पहुंचकर वहां दर्शन करने के पश्चात हरिद्वार के लिए रवाना हुई। हरिद्वार में मनसा देवी के दर्शन करने के उपरांत शाकुम्भरी देवी, नैना देवी , चिंतपूर्णी, ज्वाला जी कांगड़ा, चामुंडा देवी, वैष्णव देवी का दर्शन करते हुए अमरनाथ पहुंची। यहां भगवान बर्फानी शिव का दर्शन किया और कोरोना काल में हुए भारी नुकसान के मद्देनजर व्यापारियों, आम नागरिकों सहित देश में अमन- चैन, शांति,सुख- समृद्धि की कामना की।उन्होंने बताया कि भगवान अमरेश्वर जिन्हें श्री अमरनाथ भी पुकारा जाता है, की यात्रा वर्ष 2020 और 2021 में कोविड त्रासदी से उपजे हालात के कारण नहीं हो पाई थी। इस बार अमरनाथ यात्रा को लेकर श्रद्धालु भक्तों में खासा उत्साह है।

नरेश कुच्छल व राम अवतार सिंह ने बताया कि सरकार ने अमरनाथ यात्रा को लेकर काफी संजीदा है और यात्रियों के लिए अनेक सुविधाएं मुहैय्या कराई है, जिससे भक्त गदगद हैं। उन्होंने बताया कि भक्तों को श्रीनगर से इस बार बाबा बर्फानी के दर्शन के लिए हेलीकाप्टर सेवा शुरू की गई है। इससे लाेग एक दिन में भी लोग दर्शन कर वापस लौट रहे हैं। साथ ही पहली बार बालटाल आधार शिविर से दोमेल तक करीब तीन किलोमीटर बुजुर्गों और दिव्यांगों के लिए बैटरी कार की सेवा शुरू की गई है। इससे करीब 14 किलोमीटर की दूरी घट कर करीब 11 किलोमीटर ही बची है। इस बार करीब डेढ़ लाख श्रद्धालुओं को ठहराने की व्यवस्था की गई है। पहली बार केवल जम्मू जिले में ही करीब 15 हजार श्रद्धालुओं को ठहराने की व्यवस्था है।

उन्होंने बताया कि श्रद्धालुओं को जम्मू से सुरक्षा घेरे में यात्रा पर भेजा जा रहा है। आगे व पीछे सुरक्षाबलों की टोली रहती है और बीच में श्रद्धालु। श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जम्मू से लेकर कश्मीर तक पूरे राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है। आतंकी हमले की आशंका को देखते हुए इस बार खोजी कुत्तों की मदद से चप्पे-चप्पे को खंगाला जा रहा है तथा श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जम्मू समेत हर जिले में हेल्प लाइन नंबर स्थापित किए गए हैं जहां 24 घंटे संपर्क किया जाता है। श्रद्धालुओं के लिए कश्मीर व जम्मू में संभाग स्तरीय कंट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं, जहां 24 घंटे सहायता उपलब्ध रहती है। उन्होंने कहा कि जो श्रद्धालु बिना पंजीकरण पहुंच रहे हैं, उनके लिए जम्मू में विभिन्न स्थानों पर तत्काल पंजीकरण की व्यवस्था की गई है। इस बार पवित्र गुफा तक मोबाइल व इंटरनेट सुविधा उपलब्ध है जिससे श्रद्धालु हर पल अपनों के संपर्क में रहते हैं। साथ ही हर श्रद्धालु को एक रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (आरएफआइडी) नंबर दिया जा रहा है, जिससे उसकी हर पल की लोकेशन की निगरानी रहती है। उन्होंने बताया कि इसके यह जत्था 5 जुलाई को वापस नोएडा लौट आई। इसके उपलक्ष्य में बुधवार को विशाल भंडारे का आयोजन संपन्न हुआ। इस मौके पर अध्यक्ष नरेश कुच्छल, चेयरमैन राम अवतार सिंह, राधेश्याम गोयल, मनोज भाटी, दिनेश महावर, मूलचंद गुप्ता, सत्यनारायण गोयल, संदीप चौहान, बृजमोहन राजपूत, सोहन लाल प्रजापति, मनोज अग्रवाल, सोहन वीर, सुभाष त्यागी, पीयूष वालिया आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.